शुक्रवार, अप्रैल 09, 2010

कुछ यादें तुम्हारा रास्ता पूछ रहीं हैं



गिरह में लिपटी हैं कुछ रात तुम्हारी,
कुछ कागज़ के पन्नों पे बिखरी हैं.
कुछ बारिश में भीग रहीं हैं,
कुछ मिटने का बहाना ढूंढ रहीं हैं.
आजाओ किसी रोज़ एक बार फिर तुम भी,
कुछ यादें तुम्हारा रास्ता पूछ रहीं हैं.

सूखे लबों से कंप-कंपाती याद तुम्हारी,
मयखाने से भी आज प्यासी लौटी है.
लहर-ए-हिज्र में तनहा डूब रही है,
महफ़िल में वो भी तनहा घूम रही है
आजाओ किसी रोज़ एक बार फिर तुम भी,
कुछ यादें तुम्हारा रास्ता पूछ रहीं हैं.

--नीरज

18 टिप्‍पणियां:

  1. महफ़िल में जो तनहा घूम रही हैं
    वो यादें तेरा पता पूछ रही है ..
    वाह ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. खूबसूरत अभिव्यक्ति.....रास्ता ज़रूर बता देना

    उत्तर देंहटाएं
  3. @Vaani ji - Bahut bahut shukriya aane k liye aur sarahne k liye.... :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. bahut sundar likha hai....first three lines mujhe bahut achchi lagi.

    उत्तर देंहटाएं
  5. यादे रास्ता पूछ रही है तो बता क्यों नहीं देते ...?
    बढ़िया रही जी आपकी ये कविता..

    कुंवर जी,

    उत्तर देंहटाएं
  6. किस खूबसूरती से लिखा है आपने। मुँह से वाह निकल गया पढते ही।

    बहुत ही सुन्‍दर प्रस्‍तुति ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. @Pallavi Ji - Sarahne k liye bahut bahut shukriya....Aate rahiye ga... :)

    उत्तर देंहटाएं
  8. @Kunwarji - Bahut bahut dhanyavaad sarahne k liye. :)
    Kuch raaste aise hote hain jo ki batlaaye nahin jaa sakte, un manzilon par bas badha jaa sakta hai.

    उत्तर देंहटाएं
  9. @Sanjay Ji - Kriti safal hui jo aapke muh se waah nikal gaya padhte padhte. Kisi kriti k liye ye bahut acchi bat hoti hai ki pathak man prassan hua hai ke nahin. :)

    Aate rahiye ga... :)

    उत्तर देंहटाएं
  10. खूबसूरत अभिव्यक्ति।

    उत्तर देंहटाएं
  11. shayed 2nd time padha aapko...aap bahut acchha likhte hai...bahut pasand aayi aapki ye gehri se yado ke baadlo se bhari rachna. badhayi.

    उत्तर देंहटाएं
  12. @Vandana Ji - Bahut bahut shukriya aane ka aur sarahne ka....Aate rahiyega... :)

    उत्तर देंहटाएं
  13. @Anamika Ji - Bahut bahut shukriya aapka.
    Aap bhi bahut accha likhti hain. Aap shayad Shafaq pe bhi hain.

    उत्तर देंहटाएं

आपके विचार एवं सुझाव मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं तो कृपया अपने विचार एवं सुझाव अवश दें. अपना कीमती समय निकाल कर मेरी कृति पढने के लिए बहुत बहुत शुक्रिया.